Health Tips - भीगे हुए अखरोट खाएं और डायबिटीज पर पाएं नियंत्रण, और भी हैं कई फायदे

 
अखरोट

अखरोट और बादाम जैसी चीजें खाने से शरीर को काफी ऊर्जा मिलती है। इसलिए इन्हें सुपरफूड्स की कैटेगरी में रखा गया है। अखरोट न सिर्फ दिमाग को पोषक तत्व प्रदान करता है बल्कि हमारे शरीर को कई तरह के फायदे भी पहुंचाता है। एक अध्ययन में दावा किया गया है कि भीगे हुए अखरोट खाने से मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। जानकारों के मुताबिक भीगे हुए अखरोट खाना एक अच्छी आदत है। ऐसा माना जाता है कि बीज और मूंगफली में कई ऐसे एंजाइम होते हैं जिन्हें पचाना बहुत मुश्किल होता है। इसे भिगोकर खाने से ये पचने में आसान हो जाते हैं। अखरोट को भीगे हुए खाने से उसके पोषण मूल्य पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।

भींगे अखरोट

विशेषज्ञों का दावा है कि अखरोट को रोजाना भिगोने से टाइप 2 डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। इसमें बड़ी मात्रा में फाइबर होता है। यह शरीर से रक्त शर्करा को मुक्त करने में भी मदद करता है। यह शरीर में शुगर की मात्रा को नियंत्रित करने में भी मदद करता है। भीगे हुए अखरोट का ग्लाइसेमिक इंडेक्स सिर्फ 15 होता है। तो यह मधुमेह रोगियों के लिए एक स्वस्थ नाश्ता है।

अखरोट

अखरोट खाने के फायदे - अखरोट में कसैले गुण होते हैं, इसलिए कब्ज से पीड़ित लोगों को नियमित रूप से अखरोट का सेवन करना चाहिए। इसमें मौजूद तेल और रेशेदार पदार्थ मल को साफ करते हैं। वातित होने के कारण अखरोट गठिया में उपयोगी होता है। गठिया से पीड़ित लोगों को 7-8 अखरोट का सेवन करना चाहिए। शुक्राणुओं की संख्या कम होने के कारण बांझपन वाले पुरुषों को नियमित रूप से अखरोट का सेवन करना चाहिए। अखरोट पौष्टिक होते हैं इसलिए जो पतले हैं और कमजोर महसूस करते हैं उन्हें सुबह उठकर अन्य सूखे मेवों के साथ 2-3 अखरोट खाना चाहिए।

From Around the web