रोचक खबरे

Janmashtami 2020: चमत्कार या अंधविश्वास, दूध-दही पी जाती है लड्डू गोपाल की ये छोटी-सी मूर्ति

Janmashtami 2020: चमत्कार या अंधविश्वास, दूध-दही पी जाती है लड्डू गोपाल की ये छोटी-सी मूर्ति

आज देशभर में लोग जन्माष्टमी बहुत ही धूमधाम से मनाएंगे, लेकिन आज हम आपको ऐसे सच के बारे में बताएंगे वैसे क्या कोई मूर्ति पानी, दूध या चाय पी सकती है। क्या किसी मूर्ति का आकार और वजन बढ़ सकता है। शायद नहीं, लेकिन भक्त इसे चमत्कार जरूर मानते हैं। मध्यप्रदेश के सिवनी की लड्डू गोपाल की मूर्ति हर बार चर्चा का विषय बनी रहती है।

loading...

यह मूर्ति हर समय किसी न किसी भक्त के घर पर रहती है। तीन से चार दिनों तक हर भक्त कान्हा की मूर्ति की सेवा करता है। बच्चे की तरह ध्यान रखता है। धातु के बने यह लड्डू गोपाल के बारे में श्रद्धालु कहते हैं कि यह मूर्ति चमत्कारिक है और पानी, दूध, चाय यहां तक की कोल्ड ड्रिंक भी पिलाते हैं तो ऐसा लगता है जैसे मूर्ति ने ग्रहण कर लिया।

पंडितजी बताते हैं कि यह लड्डू गोपाल दही, दूध मक्खन, मिश्री सब खाते हैं। उन्हें लड्डू भी खिलाया जाता है। यह प्रतिमा एक के बाद एक भक्तों के निवास पर मेहमान बनकर पहुंचती है। कई भक्तों का नंबर दो-दो सालों में लग पाता है। भक्तों का कहना है कि कई धातुओं से मिलकर यह मूर्ति बनी है। इसका आकार भी लगातार बढ़ रहा है और वजन भी।

551 views
loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 + five =

To Top