Health- यदि आप चीनी का विकल्प कर रहे हैं तलाश, यह लेख आएगा आपके काम

चीनी

मधुमेह के रोगियों को अक्सर मिठाई या चीनी का सेवन कम करने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि बहुत अधिक चीनी रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ाती है, जो मधुमेह रोगियों के लिए खतरनाक हो सकती है। लेकिन, ऐसा भी नहीं है कि जिन्हें डायबिटीज नहीं है उन्हें ज्यादा चीनी या मिठाई का सेवन करना चाहिए। चीनी के अधिक सेवन से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। आप मीठा खाना जरूर खाना चाहते हैं, लेकिन चीनी के कुछ स्वस्थ विकल्प आजमाएं। ये चीनी के स्वास्थ्यप्रद विकल्प हैं, जिन्हें आप शायद ही कभी अपने खाने की आदतों में शामिल करते हैं। अगर आप मधुमेह, मोटापा आदि समस्याओं से बचना चाहते हैं तो चीनी की जगह इन स्वस्थ चीजों का सेवन करें। ये सभी स्वाद में मीठे होते हैं और स्वस्थ रहने के लिए सर्वोत्तम होते हैं।

गुड़


चीनी को सीमित मात्रा में सेवन करें- अगर आपको मधुमेह है तो आपको मीठा कम खाना चाहिए। चाहे वह चीनी से बना पनीर हो या शहद, चीनी के विकल्प के रूप में गुड़ आदि का इस्तेमाल किया गया है। डायबिटीज में शरीर शुगर को जल्दी पचा नहीं पाता है। ऐसे में मिठाई का ज्यादा सेवन शरीर में ब्लड शुगर लेवल को तेजी से बढ़ा सकता है। ऐसे में किसी भी चीनी के विकल्प का सीमित मात्रा में सेवन करें। आप किसी विशेषज्ञ की राय भी ले सकते हैं। मोटापे से ग्रस्त लोगों को भी चीनी के इन प्राकृतिक विकल्पों को आजमाना चाहिए।
चीनी को गुड़ से बदलें- जानकारों के मुताबिक गुड़ चीनी से भी ज्यादा सेहतमंद होता है। सर्दियों के मौसम में गुड़ का सेवन करने के कई फायदे होते हैं। इससे कई चीजें बनती हैं। गोल सर्दी और फ्लू को ठीक करता है। शरीर को गर्म करता है। कमजोर पाचन तंत्र में सुधार करता है। गैस की समस्या से बचाता है। गोले में कई प्रकार के पोषक तत्व होते हैं जैसे लोहा, कैल्शियम, पोटेशियम, मैंगनीज, मैग्नीशियम आदि। जिन लोगों में आयरन की कमी होती है उन्हें चीनी की जगह गुड़ खाना चाहिए। गोल भोजन जल्दी पचने में मदद करता है। 

शहद


चीनी का सबसे अच्छा विकल्प- गुड़ की तरह ही गन्ने के रस से चीनी भी बनाई जाती है। इसमें आयरन, पोटेशियम, कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट आदि होते हैं। इसमें मौजूद मैग्नीशियम रक्त वाहिकाओं, मांसपेशियों आदि को स्वस्थ रखता है। पोटेशियम हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करता है, जबकि एंटीऑक्सिडेंट प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं। 
शहद से बेहतर कुछ नहीं- शहद का इस्तेमाल कई सालों से किया जा रहा है और इसे खाने के साथ-साथ चेहरे पर भी लगाया जाता है। यह चीनी की तुलना में एक प्राकृतिक स्वीटनर है, जो स्वास्थ्य के लिए बहुत स्वस्थ है। इसमें मौजूद फ्रुक्टोज, ग्लूकोज बहुत ही स्वाभाविक होता है। यह स्वास्थ्य को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता है। शहद में मौजूद पोषक तत्व जैसे विटामिन सी, बी, एंटीऑक्सीडेंट, एंजाइम आदि स्वास्थ्य के लिए कई तरह से फायदेमंद होते हैं। विशेषज्ञ मधुमेह में शहद लेने की सलाह देते हैं। वजन कम करने के लिए आप पानी में शहद मिलाकर भी पी सकते हैं। 

From Around the web